Maharajganj

महराजगंज जनपद में दूसरे दौर के होने वाले पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संगठन हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी आये आमने सामने

महराजगंज जनपद में दूसरे दौर के होने वाले पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संगठन हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी आये आमने सामने

महराजगंज : जनपद में दूसरे दौर के होने वाले पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संगठन हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी आये आमने सामने महराजगंज जनपद में दूसरे दौर के होने वाले पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संगठन हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी एक दूसरे के खिलाफ चुनावी मैदान में खुलकर सामने आ गए हैं। जनपद के हिंदू युवा वाहिनी के पदाधिकारी भाजपा प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने का खुलकर ऐलान कर दिया है। हियुवा के पदाधिकारियों का आरोप है कि भाजपा के स्थानीय सांसद ने उनके कार्यकर्ताओं का टिकट कटवाने का काम किया है। जनपद पंचायत चुनाव की सरगर्मी शुरू होने के साथ ही बीजेपी ने जिला पंचायत सदस्य के प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी। जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संगठन हिंदू वाहिनी के कार्यकर्ता टिकट नहीं मिलने से नाराज हो गए और टिकट कटवाने का ठीकरा बीजेपी के स्थानीय सांसद पंकज चौधरी पर फोड़ दिया है। हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष नरसिंह पांडे का आरोप है कि सांसद ने ही मिलीभगत कर हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं का टिकट कटवाया है। उनका कहना है कि हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चेहरे के साथ सभी सीटों पर बीजेपी प्रत्याशियों के खिलाफ पुरजोर तरीके से चुनाव लड़ेंगे।वही हिंदू युवा वाहिनी के आरोपों पर भाजपा के जिलाध्यक्ष ने अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कहा कि पंचायत चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी पूरी मजबूती के साथ चुनाव लड़ेंगे। जो भी विरोधी होगा उनके साथ मजबूती से मुकाबला किया जाएगा।
महराजगंज जनपद के पंचायत चुनाव में भाजपा और हिंदू युवा वाहिनी आमने सामने खुलकर आ गए हैं। ऐसे में एक तरफ भाजपा के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तो दूसरी तरफ मुख्यमंत्री के संगठन हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता एक दूसरे को पटखनी देने की तैयारी में है। देखना होगा आपस में ही एक दूसरे का विरोध कब तक जारी रहेगा और उसका फायदा कौन उठाता है।

Related Articles

Back to top button
Close
Open chat