Specialदेश

तत्‍कालीन पाक के PM नवाज शरीफ कारगिल जंग में US और चीन से खाली हाथ लौटे थे

तत्‍कालीन पाक के PM नवाज शरीफ कारगिल जंग में US और चीन से खाली हाथ लौटे थे

तत्‍कालीन पाक के PM नवाज शरीफ कारगिल जंग में US और चीन से खाली हाथ लौटे थे

प्रतिवर्ष 26 जुलाई को देश में कारगिल विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है
कारगिल के इस युद्ध में भारतीय सेना ने पाकिस्‍तान की सेना अपना लोहा मनवाया।
भारत-पाक युद्ध के दौरान शरीफ ने अमेरिका का दौरा किया था।
उनकी इस यात्रा का मकसद युद्ध के दौरान कूटनीतिक मदद हासिल करना था।
शरीफ ने अमेरिका को भारत के खिलाफ भड़काने का प्रयास किया था। शरीफ
अपनी अमेरिकी यात्रा के दौरान क्लिंटन से मुलाकात की थी। जाह‍िर है कि युद्ध के
दौरान उनकी यात्रा के दो मकसद थे। पहला इस युद्ध में अमेरिका का रुख जानने
की कोशिश कर रहे थे। दूसरे, वह इस अवसर की तलाश में थे कि भारत के खिलाफ अ
अमेरिका को खड़ा किया जा सके।

Related Articles

Back to top button
Close
Open chat